BlogsDharmik Aur Adhyatmik

यह पाच चीजें है भगवान शिव की अनोखी-

सभी देव देवताओं में भगवान शिव जी को अनोखा स्थान प्राप्त हुआ है। शिवजी की कई चीजें अन्य देवी देवताओं से अनोखी है। तो जानते है भगवान शिव की उन्हीं कुछ खास चीजों के बारे में-

१) त्रिशूल- भगवान शिव के साथ हमेशा त्रिशूल दिखाई देता है। भगवान शिव के त्रिशूल के तीन भाग मानव के अंदर के भौतिक ,देहिक और दैविक पापों को नष्ट करके जीवन सुखी बनाता है। भगवान शिव त्रिशूल से ही अधर्मी और असुरो का वध करते है।

२)तीन नैत्र – भोलेनाथ के द्वारा दिए गए निर्देशों से ही ब्रह्मा जी ने सृष्टि की निर्मिती की है । भगवान शिव से भूत, भविष्य ,वर्तमान कुछ नहीं छिपा है ।जो चीज हम देख और समझ नहीं पाते वह चीजें शिवजी से छुपी हुई नहीं है।

३)सर्प – सभी देवी देवताओं के गले में हमें पुष्प की माला दिखाई देती है ,परंतु भगवान शिव अपने गले में वासुकी नामक सर्प को धारण करते है। वासुकी ने पिछले जन्म में भगवान शिव की तपस्या की थी, जिसके कारण भगवान शिव ने प्रसन्न होकर वासुकी को अपने गले में स्थान दिया।

४) चन्द्रमा-ज्योतिष शास्त्र के अनुसार मनुष्य चन्द्र के कारण पाप और पुण्य कार्य करते है ।इसे मन का कारक माना गया है। भगवान शिव अपनी जटाओं में चन्द्र को धारण करते है ।इसिके कारण उनका अपने मन पर नियंत्रण है।

५) डमरू – भगवान शिव जी के हाथ का डमरू उनके संगीत और नृत्य में रुचि के बारे में बताता है। सृष्टि के निर्माण के समय जब भोलेनाथ ने डमरू बजाया था तब उसके ध्वनि से संस्कृत भाषा का जन्म हुआ था ऐसा माना गया है।

Tags

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button
Close
Close

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker