Education

क्या आप जानते हैं भारत में हुए इन आविष्कारों के बारे में?

भारत में कई आविष्कार हुए हैं । भारतीय वैज्ञानिकों ने अपने आविष्कार से दुनिया को कुछ ना कुछ दिया है। यहां हम जिक्र करने जा रहे है उनमें से कुछ आविष्कार का जिसका का उपयोग दुनियाभर में किया जाता है।

शतरंज – इसको चतुरंग नाम से जाना जाता है । छठी सदी में गुप्त राजवंश के दौरान इसका आविष्कार किया गया । उस दौरान यह राजा ,महाराजाओं का खेल हुआ करता था। बाद में जन सामान्य के खेल के रूप में यह खेल प्रसिद्ध हुआ।

बटन- पहली बार बटन का उपयोग सिंधु घाटी के सभ्यता के नगर मोहनजोदड़ो के लोगों ने किया था । यह बात इसा से करीब 2000 साल पहले की है।

लोहा और इस्पात –प्राचीन भारत में लोहा और इस्पात के शानदार उपयोग के बारे में उल्लेख है । पश्चिमी जगत को लोहे का जब पता चला तब से करीब 2000 साल पहले से भारतीय है इसका उपयोग करते थे ।

शून्य व दशमलव – महान भारतीय गणितज्ञ आर्यभट्ट ने शून्य व दशमलव की खोज कि। ब्रह्मगुप्ता ने उनके इस काम को आगे बढ़ाया।

हीरे का खनन – भारतीय करीब 5000 साल पहले से बातें हीरे का इस्तेमाल करते थे ।यह दुनिया का एकमात्र ऐसा देश था लोगों को हीरे के बारे में जानकारी थी।

स्याही – ईसा से करीब 400 साल पहले भारतीयों ने लिखने के लिए स्याही की खोज की थी। दक्षिण भारत में स्याही और नुकीले पेन से लिखने की प्राचीन परंपरा है।

फाइबर ऑप्टिक – भारत के डॉ. नारिंदर सिंह कापानी को फाइबर ऑप्टिकस टेक्नोलॉजी के पिता कहा जाता है।

प्लास्टिक सर्जरी – प्लास्टिक सर्जरी पहली बार भारत में कि गई । वो भी ईसा से करीब २००० साल पहले।

Tags

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button
Close
Close

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker