Dharmik Aur AdhyatmikEducationNews Updates

क्या आप जानते हैं भारत के सबसे प्राचीन पर्वत का रहस्य

अरावली पर्वत भारत का सबसे प्राचीन पर्वत हैं। भारत में प्रमुख रूप से आरावली, हिमालय, नीलगिरी, मैकाल, सहयाद्रि, सतपुड़ा, धौलागिरि, कृष्णागिरि, सागरमाथा, विन्ध्याचल, गिरनार, शेवराय, पालनी, खासी, पटकोर्ड, अराकानयोमा, शिवालिक, हिंदकुश आदि कई पर्वत श्रृंखलाएं हैं। उक्त पर्वत श्रृंखलाओं में कई छोटी और बड़ी पहाड़ियां और पहाड़ हैं। अरावली भारत के पश्चिमी भाग राजस्थान में स्थित एक पर्वतमाला है। हालांकि भारत की सबसे प्राचीन पर्वत श्रृंखला कौन-सी है यह अभी भी शोध का विषय हैं। हिमालय पर्वत को सबसे नवीनतम पर्वत श्रृंखला माना जाता है जिसके अतंर्गत कई ऊंची-ऊंची पहाड़ियां आती है।

अरावली पर्वत की खासियत

अरावली पर्वत प्राचीन भारत के सप्तकुल पर्वतों में से एक है। यहां पर पारिजात वृक्ष पाया जाता है इसलिए इसे पारिजात पर्वत कहा जाता है। माना जाता है कि यहीं पर श्रीकृष्ण ने वैकुंठ नगरी बसाई थी। अरावली पर्वत श्रृंखला कई प्राकृतिक और खनिज संपदाओं से लबरेज है। यह पर्वत श्रेणी क्वार्ट्ज चट्टानों से निर्मित है। इनमें सीसा, तांबा, जस्ता आदि खनिज पाए जाते हैं। वेदस्मृति (बनास), वेदवती (बेरछ), वृत्रघ्नी (उतंगन), सिंधु (काली सिंध), वेण्या या वर्णाशा नंदिनी अथवा चंदना (साबरमती), सदानीरा या सतीरापारा (पार्वती), चर्मण्वती या धन्वती (चंबल), तूपी या रूपा या सूर्य (गंभीर), विदिशा या विदुषा (बेस), वेत्रवती या वेणुमती (बेतवा), शिप्रा या अवर्णी या अवंती ये सारी नदियां अरावली पर्वत से निकलती हैं।
Tags

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close