Political news

भारत नही लेगा आरसेप वार्ता में हिस्सा, जानिये इसके पीछे की वजह

बैंकाक में आरसेप ( रीजनल कंप्रेहेंसिव इकोनॉमिक पार्टनरशिप ) वार्ता होने वाली हैं। आरसेप दुनिया के सबसे मजबूत ट्रेड ब्लॉक के तौर पर प्रचारित हैं परंतु भारत इस का हिस्सा नही बनने वाला हैं। इस पर पीएम मोदी का कहना हैं मौजूदा वैश्विक हालात और समझौते के प्रारुप में उसके हितों व मुद्दों को पूरा स्थान नहीं दिए जाने की वजह से भारत इसमें शामिल नहीं होगा। पीएम मोदी का कहना हैं भारत आरसेप में हिस्सा नही लेगा और इसके के लिए ना तो गांधी के सिद्धांत और ना ही उनका जमीर इस समझौते में शामिल होने की इजाजत दे रहा है।

पीएम मोदी को हल्के में लेना लोगों की बेवकूफी होगी :

यह फैसला एक आम भारतीय के जीवन और उसके जीवनयापन के साधनों खास तौर पर समाज के बेहद निचले तबके के जीवन पर पड़ने वाले असर को देखते हुए किया जा रहा है। आरसेप के जरिए बहुत ऐसे देश हैं जो भारत पर अलग-अलग तरह से दबाव बनाने का प्रयास कर रहे हैं और इस बात पर भी पीएम मोदी ने कड़े स्वर में उन देशों को चेतावनी दी हैं।

यह आर्टिकल कैसा लगा? हमें कॉमेंट करके बताएं । इसे ज्यादा से ज्यादा शेयर करें और हमें फॉलो जरूर करें

Tags

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close
Close